की सिफारिश की

प्रसिद्ध टग्स

तब्दील

भविष्य के लिए योजनाएँ और परिणाम: मॉस्को में उन्नत क्रिप्टोमुद्रा प्रिज़्म के शुभारम्भ की सालगिरह पर एक सम्मेलन

आज हर कोई क्रिप्टोमुद्राओं के उद्योग के बारे में बोलता है। हालांकि, ब्लॉकचेन समुदाय, खुद बाजार की तरह, बहुत विविध है । अधिकांश स्टार्टअप, जो लोगों का पर्याप्त ध्यान नहीं खींच पाते हैं, दूर हो जाते हैं और समुदाय में जल्दी ही भुला दिए जाते हैं ।

आज हम कॉइन के विपरीत पक्ष की बात करेंगे – उदाहरण के लिए, जब प्रोजेक्ट वाकई में मान्यता और ब्लॉकचैन समुदाय द्वारा ध्यान देने योग्य था, तब उसने अपने आप में ही मीडिया और बहुत गंभीर प्रयोक्ताओं का आधार इकट्ठा किया – वो लोग जो काम में उत्पाद को जांचकर उसमें विश्वास करते थे ।

हम क्रिप्टो-मुद्रा प्रिज़्म के बारे में बात करेंगे, जो 17 फरवरी 2018 को 1 वर्ष की हो गई । यह तारीख उन्नत क्रिप्टो मुद्रा प्रिज़्म के ब्लॉकचेन की शुरुआत की सालगिरह को चिन्हित करेगी और, जाहिर है, इसमें प्रिज़्म के सभी उपयोगकर्ताओं, अंतरराष्ट्रीय सामाजिक आंदोलन “आओ मिलकर दुनिया को बदलें” के कार्यकर्ताओं और ब्लॉकचेन समुदाय के अन्य प्रतिनिधियों का ध्यान आकर्षित किया है ।

बेशक, वर्षगाँठ और अन्य यादगार तिथियां – किए गए काम, उसके परिणाम और योजनाओं के बारे में बात करने का समय हैं । यह इस प्रयोजन के लिए है कि उन्नत क्रिप्टोमुद्रा प्रिज़्म की टीम ने मास्को में इस प्रोजेक्ट की सालगिरह के लिए समर्पित एक विशेष सम्मेलन का आयोजन किया ।

प्रिज़्म कार्यकर्ताओं और अतिथियों ने निम्नलिखित विषयों पर बात की:

- विश्व वित्तीय प्रणाली की वर्तमान स्थिति, समस्याएं और भविष्य;

- क्रिप्टो-मुद्रा उद्योग की वर्तमान संभावनाएं और नुकसान;

- प्रथम वर्ष में प्रिज़्म क्रिप्टो मुद्रा के काम के परिणाम और टीम की आज की योजनाएँ;

"निजी बैंक" की अवधारणा एक व्यक्ति है, जैसा कि दुनिया के भविष्य की आर्थिक प्रणाली के उत्सर्ग केंद्र के रूप में है।

सम्मेलन के दौरान, प्रिज्म क्रिप्टो मुद्रा के संस्थापक श्री अलेक्सी मुराटोव और श्री युरी मेयोरोव ने संकल्पनात्मक, तकनीकी, आर्थिक और यहां तक ​​कि दार्शनिक विषयों पर भी सम्मेलन के मेहमानों के साथ बातचीत की ।

"बाजार की अर्थव्यवस्था अपने लक्ष्य को परिभाषित नहीं कर सकती है। शुरुआत में इसका लक्ष्य, लाभ को अधिकतम करने का होता है, यह किसी मानव के केवल दोषों को ही विकसित कर सकती है । अर्थव्यवस्था, या जो भी हम करते हैं - मनुष्य और समाज के विकास के उद्देश्य से होना चाहिए। जब कोई लक्ष्य नहीं होता है, हम हमेशा एक बंद छोर की ओर जायेंगे ।

मौजूदा वित्तीय प्रणाली एक वित्तीय पिरामिड है । पैसा अमेरिकी फेडरल रिजर्व के माध्यम से मुद्रित किया जाता है, फिर IMF और अंतरराष्ट्रीय बैंकिंग प्रणाली के माध्यम से आम लोगों तक जाता है ।

तथ्य यह है कि आज पूरे समाज को केवल एक ही विकल्प चुनना होगा । या तो मौजूदा वित्तीय प्रणाली, या क्रिप्टो मुद्रा । क्रिप्टो मुद्रा को वैध बनाना या नहीं बनाना, यह लोगों को गुमराह करने वाला है, क्योंकि क्रिप्टो-मुद्राएं मौलिक तौर पर भिन्न हैं । स्रोत कोड एक ऐसा नियम है, जो विशिष्ट लक्ष्यों और उद्देश्यों को हासिल करने के लिए लिखा गया है । वे ठीक वैसे ही भिन्न हो सकते हैं - जैसे कि परमाणु ऊर्जा संयंत्र और परमाणु बम अपने कार्यात्मक उद्देश्य में भिन्न हैं । इसलिए, क्रिप्टो मुद्रा के वैधीकरण के बारे में बात करते समय, यह समझना जरूरी है कि हमारे लिए वैध क्या हैं और उसका उद्देश्य क्या है ?

आज, मौजूदा बैंकिंग प्रणाली के मालिक क्रिप्टो मुद्रा के रूप में अपना एक प्रतिस्पर्धी देखते हैं। वे, निश्चित रूप से, इस "गाँठ" को कसने की कोशिश कर रहे हैं, ताकि ब्लॉकचेन आधारित नई वित्तीय प्रणाली के बुनियादी ढांचे के विकास में अधिकतम बाधाएं डाल सकें ।

आज, क्रिप्टो मुद्रा को भुगतान साधन के बजाय एक सट्टा उपकरण के रूप में अधिक उपयोग किया जाता है । प्रूफ ऑव वर्क पर क्रिप्टो-मुद्राओं का नकारात्मक पक्ष एक खाली कार्य का प्रदर्शन, "हैश कचरे" की खोज, बिजली का जलना और खनन क्षमताओं की दौड़ हैं । यह ब्लॉकचेन को बनाए रखने की बहुत महँगी कीमत और हमारे ग्रह के संसाधनों का तर्कहीन उपयोग है ।

भविष्य का निर्माण करने के लिए, हमें भविष्य के औजारों की आवश्यकता है । हम किसी की प्रतिलिपि नहीं करते हैं, हम किसी की नकल नहीं करते - हम नए उपकरण बनाते हैं जिनका दुनिया में कोई सादृश नहीं है।

प्रिज़्म में खेल के नियम इस तरह से बनाए जाते हैं कि प्रत्येक व्यक्ति के पास हमारे समुदाय में समान अवसर रहें । हम न केवल वित्तीय, बल्कि हमारे प्रतिभागियों की बौद्धिकता और रचनात्मक क्षमता को भी एकजुट करते हैं । हमारे ओर से, हम प्रिज़्म को विकेन्द्रीकृत वित्तीय साधनों के क्षेत्र में सबसे प्रभावी, तकनीकी रूप से बेहतर उपकरण बनाने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं । आज प्रिज़्म क्रिप्टोमुद्राओं की नई पीढ़ी है, एक उन्नत क्रिप्टो मुद्रा, जिसका दुनिया में कोई प्रतिद्वंद्वी नहीं है ।

प्रत्येक व्यक्ति को विश्व अर्थव्यवस्था के लिए नए मुद्रा नोट उत्पन्न करने का अवसर मिलता है । पूर्व में यह काम पिरामिड के शीर्ष पर केवल विश्व की वित्तीय संभ्रांत ही कर सकते थे । जब कोई व्यक्ति उत्सर्जन प्रणाली का हिस्सा, एक तरह का छोटा-धन उत्सर्जन केंद्र, बन जाता है, तो वह यह चुनना शुरू करने लगता है कि यह धन कैसे खर्च करे । और फिर संपूर्ण अर्थव्यवस्था को इस धन को प्रतिस्पर्धा देने के लिए अपना रुख उसकी ओर करना होगा । हमने प्रिज़्म पर आधारित, निजी बैंकों की एक प्रणाली बनाई है । इसके बाद हम बुनियादी ढांचे जैसे दुकानों, व्यापारिक मंचों, सामानों और सेवाओं के लिए भुगतान, को जोड़ेंगे - प्रिज़्म के संस्थापक श्री अलेक्सी मुराटोव ने कहा ।

"आज, अनेक लोग "फ़िएट मनी" शब्द को जानते हैं । यह क्या है? फ़िएट शब्द लैटिन भाषा से "संकेत", और "आदेश" के अर्थ में अनुवादित किया गया है । यह क्या बताता है? सच यह है कि कुछ बिंदुओं पर धन सोने या चांदी के मूल्य की पहचान के तौर पर बंद हो गया हुआ है । बिल पर क्या लिखा होता है? "रूस के बैंक का टिकट" । आज, धन उस व्यक्ति के प्रति हमारे विश्वास की अभिव्यक्ति है जो उन्हें प्रिंट करता है । पिछले 100 सालों से हम एक ऐसी दुनिया में रह रहे हैं जहां हमें घोषणात्मक रूप में बताया गया था कि यह धन है। और, उन्होंने लिखा कि यह एक "टिकट" है । आज के पैसे की शक्ति हमारे उस विश्वास में निहित है जिसके बारे में हमें बताया गया था ।"

यह वो क्षण था, जब पैसा "टिकट" में बदल गया - दुनिया के सबसे बड़े व्यापार की शक्ल ले ली । "मुद्रा-ढलाई मुनाफ़ा (Seigniorage)" - आप कितना कागज, स्याही, आदि खर्च करते हैं और मुद्रा बिलों का मूल्य कितना निर्धारित करते हैं, इसका फर्क बताता है ।

आपको क्या लगता है कि दुनिया में कैसा बदलाव आएगा जब धन का उत्पादन अपरिचित बैंकों के अभिजात वर्ग के हाथों से आम लोगों तक हस्तान्तरित कर दिया जाए? मुझे लगता है, अधिकारियों के ध्यान का केन्द्र-बिन्दु और एकाग्रता बदल जाएँगे ।

चूंकि, हम प्रकृति के नियमों के साथ काम कर रहे हैं, तब "पैरामाइनिंग" इस सिद्धांत पर आधारित है। हमारी पैरामाइनिंग में 7 बुनियादी मानदंड हैं, वे 2 समूहों में विभाजित हैं । आपके अकाउंट में कॉइन की संख्या और फॉलोवरों के खातों पर कॉइन की संख्या, जैसे यह, "तरंगदैर्ध्य" और "तरंगगति" थी । प्रिज़्म सार्वभौमिक नियमों का प्रयोग करता है ।

हमारे पास एक उत्पत्ति खाता है जो प्रिज़्म में "एंटीमेटर फंक्शन" क्रियान्वित करता है । वो कॉइन जो प्रयोक्ता खतों के लिए उत्पादित किए जाते हैं, उत्पत्ति खातों में वैसे ही परिलक्षित होते हैं (यानी, वहां एक नकारात्मक शेष राशि होगी)। इस प्रकार प्रिज़्म भौतिकी के सभी कानूनों से मेल खाती है "- श्री यूरी मेयोरोव ने कहा ।

इस बीच, ब्लॉकचेन और क्रिप्टो-मुद्रा उद्योग में: एथेरियम में स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट्स में 34000 से भी अधिक कमजोरियां पाईं गईं

आज, सबसे लोकप्रिय क्रिप्टो-मुद्राओं में से एक एथेरियम के ब्लॉकचेन में कई सौ हजार स्मार्ट अनुबंध हैं जो वॉलेट, टोकन, एप्लीकेशन का प्रबंधन करते हैं या धन संग्रह के लिए प्रयोग किए जाते हैं। हालांकि, हाल ही में यूके के शोधकर्ताओं की एक टीम ने निष्कर्ष निकाला है कि एथेरियम ब्लॉकचेन में लगभग 34,200 कमजोर स्मार्ट अनुबंध शामिल हैं ।

श्री इल्या सर्गेई के नेतृत्व में यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन के शोधकर्ताओं के एक समूह ने एथेरियम के स्मार्ट अनुबंधों में कमजोरियों और समस्याओं की पहचान करने के लिए विस्तृत अध्ययन किया । इसे शुरू करने के लिए, क्रिप्टो विशेषज्ञों की टीम एथेरियम ब्लॉकचेन प्रणाली को पूरी तरह से डाउनलोड करती है, जिसके प्रभाव में, स्थानीय रूप से अपना फ़ोर्क को लागू करते हैं । इसके बाद शोधकर्ताओं ने विभिन्न प्रकार की स्क्रिप्ट्स को चलाया, जो सिद्धांत में नकारात्मक प्रभावों को जन्म दे सकता है। उस समय जब समस्याएं दिखाई दीं, तो समूह ने स्मार्ट अनुबंध की कमजोरियों को दर्ज किया।

इस प्रकार, उद्योग विशेषज्ञों ने कम्जोरिओं को लेकर 10 लाख स्मार्ट अनुबंधों का परीक्षण किया, जिसमें पता चला कि उनमें से 34,200 में केवल सामान्य कमजोरियाँ ना होकर महत्वपूर्ण समस्याएं थीं । शोधकर्ताओं की टीम ने 3000 स्मार्ट अनुबंधों पर अपने अंतिम निष्कर्षों का परीक्षण किया, जिसमें से 89% मामलों में एक ही वैचारिक और तकनीकी समस्याओं पता चला । इसके अलावा, ब्रिटिश वैज्ञानिकों के एक समूह ने खुले तौर पर कहा कि ऐसी महत्वपूर्ण कमजोरियों ने सैद्धांतिक रूप से एथेरियम में $ 6,000,000 की चोरी करने को संभव बना दिया था ।

विशेषज्ञों ने यह भी कहा कि कमजोरियों के निवारक पहचान (विशेषकर ऐसी बड़ी परियोजनाओं के भीतर) एक वास्तविक और बड़े पैमाने पर नकारात्मक प्रभावों को रोकने में मदद करता है।

ध्यान दें: उदाहरण के लिए, नवंबर 2017 में, DevOps19 के छद्म नाम के एक अज्ञात प्रयोक्ता ने एथरेम-प्योरिटी लाइब्रेरी पैरिटी के कोड में एक कमज़ोरी की खोज की और अकस्मात $ 150 मिलियन को अवरुद्ध कर दिया ।

अनुसंधान समूह श्री इलिया सेर्गेई के प्रमुख ने बताया, "हम उन एप्लीकेशन पर काम कर रहे हैं जिनमें दो बेहद अप्रिय विशेषताएं हैं: उनका उपयोग आपके धन का प्रबंधन करने के लिए किया जाता है और उन्हें ठीक नहीं किया जा सकता है ।"

एक क्रिप्टो विशेषज्ञ ने कहा, "यदि कोई हमारे विचार का फायदा उठाना चाहता है, तो उसे कम से कम उतना ही काम करना होगा, जितना हमने किया ।"

वाकई में, कमजोर स्मार्ट अनुबंधों को खोजने का काम निरर्थक हो गया, लेकिन शोधकर्ता अभी भी रिपोर्ट नहीं करते कि कौन से स्मार्ट अनुबंध कमजोरियाँ खोजी गईं ।

"यह एक बार फिर से साबित करता है कि शीर्ष स्तर के क्रिप्टो-मुद्राएं लोकप्रिय हैं, क्योंकि वे इस बाजार में सबसे पहले आईं थीं, लेकिन वे भी सम्पूर्ण होने से दूर हैं। पेकुलियर डायनासोरों, की यदि विकासवादी तरीके से पुनर्रचना नहीं करेंगे तो वो मर जाएँगे, नई पीढ़ी की क्रिप्टो-मुद्राओं को रास्ता देना होगा, "- श्री अलेक्सी मुराटोव ने भी खबर पर टिप्पणी की ।

  • 2 मार्च 2018 को 8:58:00 अपराह्न MSK
  • 0 टिप्पणी
  • 101 देखा
0 टिप्पणी